समाज सेवा से जुड़े कार्यों के प्रचार के लिए मिला जनसम्पर्क उत्कृष्टता पुरस्कार-2016

200402उदयपुर। हिन्दुयस्ता न जिंक के सखी अभियान से ग्रामीण व आदिवासी महिलाओं को आत्मविश्वाहसी एवं सशक्त बनाने एवं खुशी अभियान से भारत में वंचित बच्चों के प्रति आम जनता में जागरूकता के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए हिन्दुस्तान ज़िंक के हेड-कार्पोरेट कम्यूनिकेशन पवन कौशिक को पब्लिक रिलेशंस सोसायटी ने जनसम्पर्क उत्कृष्टता पुरस्कार-2016 से सम्मानित किया है।

यह पुरस्कार 19 अप्रेल को जयपुर में एमआई रोड स्थित चैम्बर भवन में आयोजित भव्य समारोह में मुख्य अतिथि राजस्थान सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री कालीचरण सराफ ने कौशिक को प्रदान किया। सराफ ने कहा कि जनसम्पर्क विधा किसी भी संस्थान एवं व्यक्ति के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है तथा उत्कृष्ट जनसम्पर्क कर्मियों को पुरस्कृत होने पर बधाई देता हूं। उनके उत्कृष्ट एवं उल्लेखनीय योगदान की भी सराहना करता हूं।
कौशिक हिन्दुस्तान जिंक में पिछले 9 साल से कार्यरत हैं तथा ना सिर्फ हिन्दुस्तान जिंक का अपितु वेदान्ता समूह के भी मुख्य कम्युनिकेशंस प्रोजेक्ट्स देखते हैं। ग्रामीण बाल विकास अभियान खुशी एवं सखी के संस्थामपक कौशिक की बनाई फिल्म  खुशी को अब तक डेढ़ करोड़ लोग देख चुके हैं।
कौशिक हिन्दुस्तान जिंक से पहले केन्द्र सरकार के अनेक महत्वपूर्ण अभियानों के साथ जुड़े रह है। भारत सरकार के एडवरटाईजिंग एण्ड विज्युसअल पब्लिसिटी निदेशालय में केन्द्र सरकार की नई आर्थिक नीति, ग्रामीण विकास, एड्स जागरूकता, टीकाकरण, बाल शिक्षा, आयकर, राष्ट्रीय एकता, साम्प्रदायिक सद्भाव, भारतीय स्वतंत्रता के 50 वर्ष, राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव, नशा विरोधी जैसे महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील सामाजिक एवं आर्थिक विषयों के प्रचार अभियान को निर्देषित कर प्रतिपादित किया है। इसके पश्चात् पवन कौषिक ने राष्ट्रीय फैषन प्रौद्योगिकी संस्थान (निफ्ट), दिल्ली में पहली बार फैशन कम्यूनिकेशन विभाग की शुरूआत की। यहीं एसोसिएट प्रोफेसर के रूप में फैशन कम्यूनिकेशन को पढ़ाने एवं निफ्ट को नई पहचान दिलाने में सफलता प्राप्त की।
इन्होंने प्रिन्ट मीडिया में कई कॉलम लिखे है तथा तीन दाक से रेडियो व टेलीविजन माध्यम से जुड़े हैं। इनकी निर्मित शैक्षिक फिल्म को जापान के प्रतिष्ठित शैक्षणिक अवार्ड नीप्पोन से सम्मानित किया गया। भारत सरकार द्वारा 5 कार्यदिवस की घोषणा पर इनके द्वारा लिखे लेख को देश में पहला पुरस्कार मिला है। कौशिक को सामाजिक व आर्थिक जागरूकता अभियान के लिए हाल ही में टाइम्स ऑफ इण्डिया, रोटरी इण्टरनेशनल मेवाड़, लेकसिटी प्रेस क्लब उदयपुर तथा आईस अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है।