300905उदयपुर। हिन्दुस्तान जिंक की दरीबा स्मेल्टर कॉम्पलेक्स को वर्ष 2016 में पॉवर क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ नवाचार के लिए आईपीपीएआई पॉवर अवार्ड-2016 से सम्मानित किया गया। यह प्रतिष्ठित पुरस्कार भारत सरकार के न्यू एण्ड रिन्यूवबल एनर्जी मंत्रालय के पूर्व सचिव सुब्रमण्यन ने गोवा में आयोजित समारोह में प्रदान किया।

हिन्दुस्तान जिंक की ओर से यह पुरस्कार एके सिंह, महाप्रबन्धक-कैप्टिव पॉवर प्लांट, दरीबा स्मेल्टर कॉम्पलेक्स, एमएस राठौड़ प्रबन्धक-इंजीनियरिंग एण्ड प्लानिंग तथा अरिन्दम घोष, इंजीनियर-सीपीपी ने इण्डिपेन्डेंट पावर प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया (आईपीपीएआई) के महानिदेशक एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद एवं अन्य कंपनियों के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में ग्रहण किया।
उल्लेखनीय है कि हिन्दुस्तान ज़िंक के सभी प्लांट कैप्टिव पॉवर प्लान्ट से संचालित है जिनकी वर्तमान क्षमता 474 मेगावाट है। हिन्दुस्तान जिंक के हेड कार्पोरेट कम्यूनिकेशन पवन कौशिक ने बताया कि पवन ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिये हिन्दुस्तान जिंक ने पवन ऊर्जा फार्मों का विस्तार भी किया है तथा वर्तमान में हिन्दुस्तान ज़ि़ंक की पवन ऊर्जा उत्पादन क्षमता 274 मेगावाट है।