आईआईएमयू द्वारा सीएसआर एण्ड सस्टेनबिलिटी की स्टेडी रिपोर्ट में प्रकाशित

भारत की एकमात्र एवं विश्व की अग्रणी जस्ता-सीसा एवं चांदी उत्पादक कंपनी हिन्दुस्तान जिं़़क को सामाजिक उत्तरदायित्व के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए भारतीय प्रबन्धन संस्थान उदयपुर द्वारा सीएसआर-सस्टेनबिलिटी रेंकिंग्स-2016-17 के एक स्टेडी डेटा द्वारा सम्पूर्ण भारत में 9वीं उत्कृष्ट रेंक प्रदान की गयी है।

ज्ञातव्य रहे कि भारतीय प्रबंधन संस्थान, उदयपुर द्वारा भारत की 218 कंपनयिों का स्टेडी सर्वे किया गया था जिसमें टाॅप 200 कंपनियों के बिक्री निष्पादन को आधार माना गया है। इस सर्वे में 171 निजी क्षेत्र की तथा 47 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों की प्रतिभागिता रही है जिसमें 135 मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर से तथा 83 सर्विस सेक्टर से है।
हिन्दुस्तान जिंक ने सामाजिक कार्यों में महिला एवं बाल विकास, कुपोषण, महिला शक्तिकरण, बालिका षिक्षा, नंदघर, माईनिंग एकेडमी, फुटबाल एकेडमी, षिक्षा सम्बल, सेनीटेषन, गांवों में आधारभूत सुविधाएं तथा ग्रामीण युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रशिक्षण उपलब्ध कराना आदि अनेकों क्षे़त्रों में उत्कृष्ट कार्य किया है। कंपनी राजस्थान में अपने निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत लगभग 5 लाख लोगों को प्रभावित कर रही है जिससे उनके जीवन स्तर में व्यापक सुधार आया है।
हिन्दुस्तान जिं़क के वाइस प्रेसीडेन्ट एवं हेड-कार्पोरेट कम्यूनिकेषन पवन कौशिक ने बताया कि हिन्दुस्तान जिं़क द्वारा सामाजिक उत्तरदायित्व एवं सस्टेनबिलिटी के लिए किये गये प्रयासों की मान्यता है तथा कंपनी सामाजिक कल्याण एवं ग्रामीण उत्थान तथा महिलाओं के सामाजिक एवं आर्थिक सषक्तिकरण के लिए सदैव कटिबद्ध है।
हिन्दुस्तान जिं़क भारत की एकमात्र एवं विष्व की सबसे बड़ी एकीकृत जस्ता एवं चांदी उत्पादक कंपनी है तथा केन्द्र एवं राजस्थान सरकार के सहयोग से अनेकों सामाजिक कल्याण कार्यक्रमों द्वारा गांवों में उन्नति एवं विकास ला रहा है।