स्कूली बच्चों ने अद्भुत चित्रों और कला के माध्यम से रचे खुशी के रंग

231102उदयपुर। ओ री चिरैया .. नन्हीं सी गुडिया, अंगना में फिर आ जा रे, बाल विवाह अभिषाप है, बालिका को भी पढने का अधिकार है, सारी उम्र हम, मर मर के जी लिये और कहीं दहेज विरोधी नाट्य जैसे संदेशों से शहर के 10 प्रमुख पर्यटन स्थल और चौराहे बुधवार को विशेष आकर्षण का केन्द्र रहे।

(continue reading…)