उदयपुर। केन्द्रीय वित्तमंत्री प्रणब मुखर्जी ने शनिवार को सुखाडिय़ा विश्वीविद्यालय के स्वर्ण जयंती समारोह पर हिन्दुस्तान जिंक के मुख्यि कार्यकारी अधिकारी अखिलेश जोशी को शील्ड प्रदान कर व शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया।

उल्लेखनीय है कि श्री जोशी 35 वर्षों से हिन्दुस्तान जिंक में कार्यरत हैं। जोशी ने खनिज अभियांत्रिकी की डिग्री एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज जोधपुर से प्राप्त। की। इसके अलावा उन्होंने पेरिस विश्वविद्यालय से इकोनोमिक इवेल्युएशन ऑफ माइनिंग प्रोजेक्ट में भी स्नातकोत्तर की उपाधि हासिल की।
श्री जोशी अलौह धातु, भूविज्ञान एवं इससे जुड़े क्षेत्रों में किए गए उल्लेखनीय योगदान के लिए प्रतिष्ठित ‘राष्ट्रीय खनिज’ पुरस्कार से सम्मानित हो चुके हैं। जोशी के नेतृत्व में हिन्दुस्तान जिंक की रामपुरा-आगूचा खान को दुनिया की सबसे बड़ी सीसा-जस्ता खदान होने का गौरव हासिल है। साथ ही सबसे कम लागत पर उत्पादन देने वाली सीसा-जस्ता माइन्स होने का भी गौरव हासिल है।