दिल्ली में आयोजित एक भव्य समारोह में मााननीय उपराष्ट्रपति श्री वेंकैया नायडू ने हिन्दुस्तान जिंक को राष्ट्रीय स्तर का सफाईगिरी अवार्ड-2017 से सम्मानित किया। यह पुरस्कार गांधी जयन्ती के अवसर एक राष्ट्रीय स्तर के प्रकाषन द्वारा आयोजित किये गये थे।

हिन्दुस्तान जिंक को यह पुरस्कार उदयपुर में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के निर्माण के लिए बेस्ट पब्लिक प्राईवेट पार्टनरषीप मॉडल श्रेणी के तहत प्रदान किया गया। इस पुरस्कार की जूरी में शषि थरूर-सांसद एवं लेखक, अरूण पुरी-अध्यक्ष, इण्डिया टुडे, शुभगता दासगुप्ता-सीनियर फेलो, सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च, षिल्पा शेट्टी-प्रसिद्ध अभिनेत्री, विनायक चैत्रजी-सह-संस्थापक, फीडबैक इन्फ्रा प्राईवेट लिमिटेड, टीवी मोहनदास पाई-अध्यक्ष, मणिपाल ग्लोबल एजुकेषन और नीरजा बिड़ला-संस्थापक एवं अध्यक्ष-आदित्य बिड़ला एजुकेषन ट्रस्ट शामिल थे।
हिन्दुस्तान जिंक की ओर से पवन कौषिक ने दूरदृष्टि सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट परियोजना के बारे में दर्षकों को विस्तार से जानकारी दी तथा बताया कि इस प्रोजेक्ट से उदयपुर की झीले, नदियां व अन्य जलस्रोतों में निरन्तर प्रदूषण की कमी हो रही है। पानी की बचत के साथ-साथ पानी की बढ़त हो रही है। हिन्दुस्तान जिंक जो जल अपने प्लांट संचालन के लिए प्राकृतिक स्रोतों पर निर्भर था अब वही जल की पूर्ति एसटीपी के उपचारित जल से हो रही है। इसका प्रभाव पीने योग्य पानी पर भी सकारात्मक रूप से पड़ रहा है।
उपराष्ट्रपति ने स्वच्छता के लिए एक सस्टेनेबल मॉडल के बारे में अपने विचार प्रकट किये तथा इस अवसर पर माननीय प्रधानमंत्री द्वारा भेजा संदेष भी सम्मेलन के दौरान पढ़ा गया। हिन्दुस्तान जिं़क की ओर से यह प्रतिष्ठित अवार्ड पवन कौषिक, हेड-कार्पोरेट कम्यूनिकेषन टी.आर.गुप्ता, हेड-कार्पोरेट अफेयर्स एवं देविका गुप्ता, एसोसिएट मैनेजर-कार्पोरेट कम्यूनिकेषन ने  ग्रहण किये।