आवेदन प्रारंभ, प्रशिक्षण अवधि के दौरान स्टाईफण्ड का प्रावधान

उदयपुर। वेदान्ता समूह की हिन्दुस्तान जिंक, भारत की एकमात्र एवं दुनिया की अग्रणी एकीकृत जस्ता-सीसा एवं चांदी उत्पादक कंपनी है। हिन्दुस्तान जिंक अपने सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत टीमलीज़ स्किल्स यूनिवर्सिटी के सहयोग से हिन्दुस्तान जिंक नीम कार्यक्रम-2018 के अंतर्गत बीएससी स्नातक को रोज़गार हेतु 3 साल की अवधि के लिए आन-द-जाब प्रशिक्षण दिया जाएगा। चयनित उम्मीदवारों को हिन्दुस्तान जिं़क विभिन्न व्यावसायिक आपरेशन्स में प्रशिक्षण प्रदान करवायेगी।

टीम लीज़ स्किल्स यूनिर्सिटी ’’नेशनल एलीजीबिलिटी एन्हान्समेंट मिशन (नीम)’’ की सरकारी स्कीम के तहत एक अधिकृत एजेंसी है जो एआईसीटीई द्वारा दिशानिर्देशों के अनुसार प्रशिक्षण और रोज़गार के अवसरों का पता लगाने के लिए हिन्दुस्तान जिं़क का सहयोग करेगी।
यह प्रशिक्षण ’’नेशनल एम्प्लाॅयबिलिटी एन्हान्समेंट मिशन (नीम)’’ रेग्यूलेशन-2017 टेक्निकल एज्यूकेशन के लिए अखिल भारतीय परिषद के प्रावधानों के तहत आती है। प्रषिक्षण के लिए अभ्यर्थी की उम्र एवं योग्यता – 2015, 2016 एवं 2017 में प्रथम श्रेणी से बीएससी स्नातक होना चाहिए। 10वी, 12वीं एवं स्नातक में 60 प्रतिशत से अधिक अंकों का स्कोर होना चाहिए तथा 31 मार्च 2018 को अधिकतम 25 वर्ष की उम्र हो। प्रषिक्षण की अवधि तीन वर्ष की होगी। हिन्दुस्तान जिं़क की सभी इकाईयों में विभिन्न स्ट्रीम्स में पूर्ण रूप से आवासीय 15 दिवसीय फाण्डेशन प्रशिक्षण के साथ प्रारंभ की जाएगी।
प्रषिक्षणार्थियों को 15 दिवसीय फाउण्डेशन कोर्स प्रशिक्षण के लिए आवासीय सुविधाओं व भोजन आदि कि निःषुल्क व्यवस्था उपलब्ध करवायी जाएगी। आॅन-द-जाॅब प्रशिक्षण के दौरान नीम के प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण स्थानों के आस-पास स्वयं को रहने एवं आवास की व्यवस्था करनी होगी। प्रशिक्षणार्थियों को तीन साल तक प्रथम वर्ष में 5538/- रुपये, द्वितीय वर्ष में 11500/- रुपये एवं तृतीय वर्ष में 12500/- रुपये प्रतिमाह स्टाईफण्ड के रूप में दिया जाएगा। इसके अलावा, निःशुल्क वेल्कम किट, ड्यूटी के दौरान रियायती दर पर भोजन, यूनिफार्म, पर्सनल प्रोटेक्टीव इक्यूपमेंट एवं इन्श्योरेन्स की सुविधा उपलब्ध करवायी जाएगी।
प्रशिक्षण के लिए आनलाइन आवेदन किया जा सकता है जो 14 जून तक जारी रहेगा। इच्छुक अभ्यर्थी उपर्युक्त लिंक को ओपन कर अपना आवेदन कर सकता है। प्रशिक्षण में प्रवेश के लिए राजस्थान के प्रमुख शहरों में 23 / 24 जून, 2018 को 90 मिनट का एप्टीट्यूट, एनालिटीक्ल एब्लिटी, इंगलिश एवं जनरल नोलेज से संबधित आॅनलाईन परीक्षा ली जाएगी। अंतिम रूप से चयनित अभ्यार्थियों का फाउण्डेशन कोर्स के लिए प्रशिक्षण स्थान आवंटित से पहले जुलाई, 2018 के प्रथम एवं द्वितीय सप्ताह में उदयपुर में उपस्थित होना पडे़गा।
आन-द-जाब प्रशिक्षण युवाओं के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण उपयोगी साबित होगा। सफलतापूर्वक प्रशिक्षण प्राप्त करने पर, नीम प्रमाण-पत्र/सर्टिफिकेट प्रदान करेगा जो अभ्यार्थियों को रोज़गार प्राप्त करने में सहायक होगा। अधिक जानकारी के लिए 91—80033243351 पर काल कर सकते हैं।
हिन्दुस्तान जिं़क अपने सामाजिक सरोकारों के तहत विद्यार्थियों के सर्वांगिण विकास एवं रोज़गार मुहैया कराने के लिए उच्च शिक्षा में सुधार एवं गुणवत्ता के लिए शिक्षा सम्बल कार्यक्रम, ऊंची उडान, स्किल काउन्सिल फोर माईनिंग सेक्टर तथा इण्डियन इन्स्टीट्यूट आॅफ स्किल डवलपमेंट प्रा. लि. के सहयोग से स्थापित हिन्दुस्तान जिं़क माईनिंग एकेडमी माईनिंग एकेडमी की स्थापना, सुमेधा स्काॅलरशिप आदि कई महत्वपूर्ण कार्यक्रम संचालित किये जा रहे है।
हिन्दुस्तान जिं़क की ओर से सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत स्किल काउन्सिल फोर माईनिंग सेक्टर तथा इण्डियन इन्स्टीट्यूट आॅफ स्किल डवलपमेंट प्रा. लि. के सहयोग से स्थापित हिन्दुस्तान जिं़क माईनिंग एकेडमी राज्य के लगभग 500 आईटीआई पास-आउट्स युवाओं को जम्बो ड्रिल आॅपरेषंस एवं वाईन्डिग इंजन आॅपरेषंस में प्रषिक्षण देने का लक्ष्य है।
खनन क्षेत्र में मानव संसाधन की कमी को दूर करने के लिए हिन्दुस्तान जिं़क ने भारत की पहली माईनिंग एकेड़मी की स्थापना की है जो जंबो ड्रिल तथा वाईडिंग इंजन आॅपरेषन संचालन में आईटीआई उत्तीर्ण अभ्यार्थियों को प्रषिक्षित कर रही है। दीक्षांत समारोह में जंबो ड्रील आॅपरेटर के तीसरे बैच और वाईडिंग इंजन आॅपरेटर के पहले बैच के सभी प्रषिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र एवं दोनो बैच के टाॅप तीन प्रषिक्षणार्थियों को शील्ड एवं नकद राषि से सम्मानित किया जा चुका है।
हिन्दुस्तान जिं़क के हेड-कार्पोरेट कम्यूनिकेषन पवन कौषिक ने बताया कि ’’यह जाॅब-आॅन-द प्रषिक्षण कार्यक्रम सरकार से मान्यता प्राप्त प्रमाण पत्र युवाओं को अच्छा रोज़गार प्राप्त करने में सहायक एवं अति महत्वपूर्ण होगा। राजस्थान के बीएससी स्नातक युवाओं को हिन्दुस्तान जिंक की सभी इकाईयों में प्रषिक्षण दिया जाएगा।