हिन्द जिंक एवं वर्कर्स फेडरेशन (इण्टक) के बीच दीर्घकालीन वेतन समझौता

उदयपुर। हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड एवं हिन्दुस्तान जिंक वर्कर्स फेडरेशन (इण्टक) के मध्य 10 वां दीर्घकालीन वेतन समझौता 31 मई 2018 को उदयपुर में एससी जोशी सुलह अधिकारी एवं उप मुख्य श्रम आयुक्त (केन्द्रीय), भारत सरकार, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय, अजमेर एवं जीपी कुकरेती, संयुक्त श्रम आयुक्त एवं समझौता अध्किारी, राजस्थान सरकार, उदयपुर की मध्यस्थता में त्रिपक्षीय समझौता स्थायी श्रमिकों के लिए सम्पन्न हुआ।

वेतन समझौते में 30 जून 2017 के मूल वेतन एवं 1 जुलाई 2017 के मंहगाई भत्ते पर 21 प्रतिशत की वेतन वृद्धि की गई। बड़े हुए वेतन पर एक वार्षिक वेतन वृद्धि 3 प्रतिशत का अतिरिक्त लाभ दिया गया। श्रमिकों को मिलने वाले अधिकांश भत्ते , पर 50 प्रतिशत की बढोतरी की गई। मकान किराया, भूमिगत भत्ता, क्रशिंग भत्ता एवं पिट भत्ता पर भी बढोतरी की गई। सामाजिक सुरक्षा के तहत मिलने वाले लाभ में भी वृद्धि की गई। उक्त समझौते के तहत श्रमिकों को प्रतिमाह दस हजार से लेकर तीस हजार तक की बढोतरी 1 जुलाई, 2017 से होगी।
सरफेस पर कार्यरत संविदा श्रमिकों के लिए भी वेतन समझौता 01 सितम्बर 2017 से पांच वर्ष के लिए किया गया। समझौते के तहत श्रमिकों को वेतन वृद्धि, वार्षिक वेतन वृद्धि, मंहगाई भत्ता, सर्विस वैटेज, पदोन्नति, छुट्टियों में बढोतरी, चिकित्सा सुविधा आदि मिलेगी। उक्त समझौते के तहत पांच से सात हजार तक की मासिक बढोतरी 1 सितम्बर 2017 से होगी। इसके साथ ही अण्डर ग्राउण्ड में कार्यरत संविदा श्रमिकों का भी समझोता किया गया। इनके लिए विस्तृत समझोता तीन माह के अन्दर किया जायेगा।
हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड से सेवानिवृत कर्मचारियों के लिए चिकित्सा सुविधा हेतु डेढ़ लाख से दो लाख प्रतिवर्ष की गई। साथ ही गम्भीर बीमारियों के लिए यह राशि चार लाख प्रतिवर्ष की गई।
हिंद जिंक के हेड कॉर्पोरेट कम्युेनिकेशन पवन कौशिक ने कहा कि हिंदुस्तान ज़िंक वर्कर्स फेडरेशन (इंटक) हमारे परिवार का एक हिस्सा है। आज जिस मुकाम पर हिंदुस्तान जिंक है उसमे इस फेडरेशन का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है। हिंदुस्तान जिंक 1.5 मिलियन टन धातु और 1500 टन चांदी बनाने की ओर अग्रसर है और हमें यकीन है इसी सद्भाव से अपने लक्ष्य को प्राप्त करेंगे।
हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड प्रबन्धन की और से मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील दुग्गल, मुख्य वित्तीय अधिकारी अमिताभ गुप्ता, मुख्य प्रचालन अधिकारी लक्ष्मण सिंह शेखावत, पकंजकुमार, एचआर हेड एवं हेड आइआरएमएल संजय शर्मा, हिन्दुस्तान जिंक वर्कर्स फेडरेशन एवं फेडरेशन से सम्ब न्धित यूनियन की ओर से यूएम शंकरदास, केएस शक्तावत, मांगीलाल अहीर, प्रकाश श्रीमाल, एमके लोढा, घनश्याममसिंह राणावत, एसके मोड, रणजीत सिंह, लालुराम मीणा, एमके सोनी, वीरेन्द्र मीणा, राजेन्द्र कुमार मेनारिया, अभयनाथ चौहान, केजी पालीवाल, की ओर से हस्ताक्षर किये।